874/☑️पहले तू; पहले तू का समय नहीं‼️

🔴#पश्चिमी_महाशक्ति_सहित तमाम समर्थक देश? डरने: कांपने: रोने; चीखनें; सिर्फ बातेँ बनाने से काम नहीं चलता! अब ये सब करने का समय नहीं हैं! वो कहावत सुनी होगी? जो डरता हैं सो मरता हैं! तानाशाह के कायराना हरकत का खुल कर सामना करों! एक इंच भी जमीन यूक्रेन की गई तो बदनामी यूक्रेन की नहीं बल्कि तुम सबकी होगी! यूक्रेन से तानाशाह को हटाने के लिए जो भी कदम उठाना हो; सभी प्रोटोकोल को किनारे करते हुए तत्काल उठाओं! पहले तू, पहले तू का समय नहीं हैं! या तो हार मानकर लड़ाई बन्द कर दो! झुक जाओ तानाशाहों के चरणों मे या फिर खुल कर मैदान मे अपनी पूरी ताकत दिखाओं! नष्ट कर दो दुश्मनों को! तानाशाह के घर मे घुसकर उसे मारों! ये पटाखें फोड़ना; वाद-प्रतिवाद करना बन्द करों! किसी भी हालत मे युद्ध लंबा खींचना किसी भी पक्ष-विपक्ष के लिए हितकर नहीं हैं! ज्यादा सोच विचार करना मूर्खता हैं! हिम्मतवान करते पहले हैं; सोचते बाद मे हैं! बेवकूफ़ सोचते ज्यादा हैं! भाषण देते हैं; एक दूसरे पर दोषारोपण करते हैं; आंतरिक नुकसान करते हैं; नोच-खसोट; गाली-गलौज करते हैं किन्तु वो हिम्मत नहीं रखते जो युद्ध या आपात काल मे रखना चाहिए! यूक्रेन से कुछ सीखों! मदद कर रहें हो अच्छी बात हैं किन्तु उसके दर्द को महसूस करों! जिसके अन्दर ज़ज्बा ना हो! संकल्प और हिम्मत ना हो! ऐसे को कापुरुष की संज्ञा दी जाती है! सिर्फ यूक्रेन ही बर्बाद नहीं होगा तुम सब बर्बाद हो जाओगें! आशा हैं त्रिशूल की बात समझ मे आई होगी इसके पहले भी कुछ महत्तवपूर्ण बातेँ कहीं गई हैं उन्हें समझनें की कोशिश करों !!°°°

*༺⚜️꧁✴️‼️ॐ#शिव#ॐ‼️✴️꧂⚜️༻*
°°°•••✳️॥>!धन्यवाद!<॥✳️•••°°°

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s